ऋण स्वीकृति संप्पति ख़रीद से पहले करवाइए

अगर आपके पास ऋण स्वीकृति पहले ही उपलब्ध है तो आपको बेहतर मोलभाव मिल सकता है


बिना पंजीकरण के पैसों का लेनदेन करने की ज़रूरत नहीं पड़ती, क्यूँ के अगर बिना पंजीकरण अगर लेनदेन हुआ तो ये धोका दायक हो सकता है


ऋण स्वीकृति पर आप तुरंत पंजीकरण पर जा सकते हैं, जिससे आपके लेनदेन पर कोई जोखिम नहीं होता


बिना स्वीकृति विक्रेता संप्पति पंजीकरण करना पसंद नहीं करते, क्यूँ के कई बार ऋण स्वीकृति ना होने पर पंजीकरण रद्ध करना अनिवार्य होता है जिसके लिए ख़रीद दार का आना ज़रूरी होता है और अगर ख़रीद दार ने आने से इनकार किया तो ऐसी सुरत में जोखिम कई गुना बढ़ जाता है


अगर बाद में ऋण स्वीकृति नहीं हुई तो बुकिंग राशि को जब्त किया जा सकती है


अगर आपके पास ऋण स्वीकृति नहीं है तो आपको तय समय से ज़्यादा वक़्त लग सकता है जो के आपके करार में लिखित धाराओं मद्देनज़र आपको व्याज भी देना पड़ सकता हैं


पंजीकरण शुल्क का घाटा तो तय है क्यूँ के ये राशि आपको वापस नहीं की जाती है


उपरोक्त सभी बातों का ध्यान रख कर आप जोखिम मुक्त सौदा कर सकते हैं।

2 views

Recent Posts

See All
  • Black Pinterest Icon
  • Black YouTube Icon
  • Black Facebook Icon

TO CONTACT OUR RENTAL OR SALES TEAM 

PLEASE CALL OR EMAIL US:

ALTERNATIVELY YOU CAN FILL

IN THE FOLLOWING CONTACT FORM:

Tel: +91-9320201565

© 2018 all rights reserved,

powered by PRAVINKUMAR

RERA No. A51700012338